झाँसी में ही होगी कोरोना वायरस की जांच- डीएम:रिपोर्ट-=आयुष साहू

0
36
????????????????????????????????????

झांसी। कोरोना वायरस के निपटने के लिए हर पुख्ता इंतजाम किये जा रहे है। अगर इसमें आमजनमानस का पूरी तरह से सहयोग मिले तो इस महामारी को खत्म करने में हम सफल हो सकते हैं। यह बात जिलाधिकारी आन्द्रा वामसी ने विकास भवन सभागार में पत्रकारों को जानकारी देते हुए कहा कही।
जिलाधिकारी ने कोरोना वायरस से बचाव के सम्बन्ध जानकारी देते हुए कहा कि जनपद में आइसोलेशन व क्वारेन्टाइन वार्डों की स्थापना हो चुकी है। पैरामेडिकल में 120 बैड का वार्ड बनाया गया है। जहां चिकित्सकों की टीम कोरोना से संक्रमित रोगी का इलाज करेगी। इसके साथ ही जिलाधिकारी ने बताया कि क्वारेन्टाइन वार्डों की स्थापना लगातार की रही है। मेडीकल काॅलेज, जिला चिकित्सालय, रेलवे चिकित्सालय में वार्डों की स्थापना हो चुकी है। उन्होंने बताया कि सेना क्वारेन्टाइन कैम्प में 1000 बैडों का इंतजाम किया गया है। जरूरत होने पर सेना से भी मदद ली जायेगी। अगर स्थिति बिगड़ती है तो नगर के सात होटलों तथा दस विवाह घरों में क्वारेन्टाइन वार्ड को बनाया जायेगा। इसके साथ ही निजी चिकित्सालयों को आइसोलेशन तथा क्वारेन्टाइन वार्डों को बनाने का आदेश दे दिया गया है। नौ निजी चिकित्सालयों में वेंटिलेटर की व्यवस्था की गई है। कोरोना संदिग्धों की देखरेख केे लिए 12 टीमों का गठन किया गया है जिनमें आगे बढ़ोतरी की जायेगी। प्रभावित स्थलों को सूचीबद्व करने की तैयारी चल रही है। जिलाधिकारी ने कहा कि इस महामारी को सामूहिक रूप से लड़कर खत्म किया जा सकता है। जिसके लिए अधिक जागरूकता की आवश्यकता है। उन्होंने बताया कि अगर किसी व्यक्ति की कोरोना वायरस की रिपोर्ट नैगेटिव आती है तो वह बेफिक्र ना हो। 14 दिनों तक वह घर से बाहर ना निकलकर किसी के सम्पर्क में ना आये। 14 दिनों बाद दूसरी रिपोर्ट आने का इंतजार करे। उन्होने बताया कि झांसी से मप्र के सभी बाॅर्डरों को सील करके बसों के संचालन पर रोक लगा दी गयी है। डीएम ने बताया कि ग्राम प्रधानों, लेखपाल, वीडीओ, कोटेदार तथा चैकीदारों से भी उनके क्षेत्रों की रिपोर्ट मांगी जायेगी। डीएम ने बताया कि बन्दी होने पर 4000 रजिस्टर्ड श्रमिकों को 1000 रू0 के हिसाब से उनके बैंक खातों में राशि पहुंचायी जा रही है। विद्यालयों तथा कोचिगों को पूरी तरह से बन्द करने के निर्देश जारी कर दिये गये हैं। उन्होने सभी से अपने घरों में रहने की अपील की है। जिलाधिकारी ने किसी क्षेत्र में कोरोना वायरस से संक्रमित संदिग्ध की सूचना देने के लिए कन्ट्रोल रूम नम्बर जारी किया है। उन्होंने बताया कि 05102440521 पर 24 घंटे कोरोना संदिग्ध की जानकारी को दिया जा सकता है। सूचना पर प्रशासन तत्काल संदिग्ध की जांच करेगा। जिलाधिकारी ने बताया कि अभी कोरोना संदिग्ध की जांच का नमूना लखनऊ स्थित लैब में भेजा जा रहा है। जहां हजारों की संख्या में जांचे हो रही है। जांच को जल्दी से पूरा कराने के लिए शासन के आदेश पर झांसी के मेडीकल काॅलेज में अगले 48 घंटे के भीतर प्रयोगशाला स्थापना के कार्य को शुरू कर दिया जायेगा। जिससे कोरोना संदिग्धों की जांच में आसानी आयेगी। कोरोना वायरस की रोकथाम के लिए जिलाधिकारी ने महत्वपूर्ण आदेश पारित करते हुए बताया कि 2 अप्रैल तक जनपद के समस्त वाणिज्य प्रतिष्ठन, दुकानें, रेस्टोरेन्ट, फूड कैफेे, भोजनालय, ढाबा, कारखाने, साप्ताहिक बाजार, के्रशर इकाईयां, निर्माण इकाईयां, माॅल्स, मल्टीब्राण्ड शोरूम, रिटेल स्टोर, वर्कशाॅप, अद्र्वसरकारी उपक्रम, स्वायत्तशासी संस्थाएं आदि पूर्ण बन्द रहेंगी। केवल आकस्मिक सेवाएं ही जनपद में संचालित की जायेंगी। साथ ही किराना, दवा, दूध आदि की दुकानें खुली रहेगी।

रिपोर्ट-आयुष साहू