कोरोना वायरस के बढ़ते खतरे,रेलवे द्वारा कई महत्वपूर्ण कदम उठाए..

0
34

कोरोना वायरस के बढ़ते खतरे,रेलवे द्वारा कई महत्वपूर्ण कदम उठाए

कोरोना वायरस के बढ़ते खतरे के मद्देनजर इस महामारी से लड़ने में रेलवे द्वारा कई महत्वपूर्ण कदम उठाए जा रहे है । इसी क्रम में एक बड़ा फैसला लेते हुए आज उत्तर मध्य रेलवे द्वारा एसी डिब्बों से पर्दे एवं कंबल निकालने के आदेश जारी कर दिए गए है । इस निर्णय के अंतर्गत कोरोना वायरस से बचाव हेतु 31 मार्च 2020 तक वातानुकूलित कोचों में यात्रियों को कम्बल प्रदान नहीं किये जायेंगे केवल चादर प्रदान किये जायेंगे आवश्यकता पड़ने पर यात्रियों को अतिरिक्त चादर की सुविधा प्रदान की जाएगी | झांसी मंडल की गाड़ियों के वातानुकूलित कोचों में यात्रियों की सुविधा हेतु यह व्यवस्था तत्काल प्रभाव से लागू कर दी गई है । यात्रियों को किसी तरह की कोई असुविधा न हो इस बात का ध्यान रखते हुए वातानुकूलित कोचों का तापमान 25 डिग्री पर स्थिर रखा जाएगा जिससे यात्रियों को कम्बल की आवश्यकता ही न पड़े । विशेष परिस्थिति में यात्री गण अपनी सुविधानुसार यात्रा के दौरान अपने साथ अपना स्वयं का कम्बल रख सकते हैं | यह सुरक्षात्मक उपाय यात्रियों के हित को ध्यान में रखकर किया जा रहा है | झांसी मंडल की बुंदेलखंड,ग्वालियर – बरौनी,चम्बलएक्सप्रेस आदि गाड़ियों के वातानुकूलित कोचों में यात्रियों की सुविधा हेतु यह व्यवस्था तत्काल प्रभाव से लागू कर दी गई है तथा पर्दों को भी हटाया जा रहा है ।
इसके अलावा रेलवे द्वारा स्टेशनों पर यात्रियों को जागरूक करने संबंधित प्रचार-प्रसार भी किया जा रहा है। उन्हें पैम्फलेट एवं उद्घोषणाओं के माध्यम से कोरोना से बचाव के संबंध में जानकारी दी जा रही है। स्टेशन पर हजारों हजार की संख्या में यात्री आते और जाते हैं। उन्हें किसी तरह का संक्रमण न हो इसके लिए नियमित तौर पर स्टेशन की साफ-सफाई की जा रही है। स्टेशन परिसर में लगे एस्केलेटर की रेलिंग, FOB की रेलिंग, रैंप की रेलिंग, बेंच, वाटरबूथ, टॉयलेट, दरवाजों के नॉब तथा स्विच आदि की सफाई स्टीम क्लीनर द्वारा करके सेनेटाइज किया जा रहा है | इसके साथ ही साथ ही झांसी मंडल के अंतर्गत कोचों के प्रवेश द्वार पर लगे हैंडल, टॉयलेट के नल एवं सीट के आस-पास कीटाणु नाशक का प्रयोग कर उच्च स्तरीय सफाई की जा रही है एवं सेनेटाइज किया जा रहा है | मंडल में कोरोना वायरस के संदिग्ध मरीजों को रखने हेतु क्वारंटाइन वार्ड भी बनाये गए है | झांसी मंडल अपने सभी सम्मानित यात्रियों के स्वास्थ्य के प्रति बेहद गंभीर है और समस्त सुरक्षात्मक उपाय हेतु निरंतर प्रयासरत है |