नारी ही शिव की शक्ति है- एसडीएमप्रजापिता ब्रहम्मा कुमारी ईश्वरीय विश्व विधालय ने-=रिपोर्ट-=अमित समेले

0
80

नारी ही शिव की शक्ति है- एसडीएमप्रजापिता ब्रहम्मा कुमारी ईश्वरीय विश्व विधालय ने

मऊरानीपुर से रिपोर्ट अमित स मेले

झाँसी l मनाया अर्न्तराष्ट्रीय महिला दिवसमऊरानीपुर । प्रजापिता ब्रहम्मा कुमारी ईश्वरीय विश्व विधालय द्वारा हर वर्ष की भाँति इस वर्ष भी अर्न्तराष्ट्रीय महिला दिवस के उपलक्ष्य मे विशाल महिला सम्मेलन का आयोजन किया गया। जिसका विषय समाज में महिलाओं का दायित्व रहा। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि उपजिलाधिकारी अंकुर श्रीवास्तव के साथ विशिष्ट अतिथि श्रीमती सरोज दुबे जिला उपाध्यक्ष महिला मोर्चा, श्रीमती शशि श्रीवास, गुड्डू मिस्त्री रहे। कार्यक्रम की अध्यक्षता इंजी. भारती आर्य जिला उपाध्यक्ष महिला मोर्चा ने की। इसी के चलते मुख्य अतिथि उपजिलाधिकारी अंकुर श्रीवास्तव ने अपने सम्बोधन में बताया कि नारी ही शिव की शक्ति है। नारी का सम्मान हमारी संस्कृति है। उन्होनें बेटियों के लिये चलायी जा रही योजनाओं की जानकारी दी। और सहयोग की बात कही। और ब्रहम्मा कुमारी बहनों ने कार्यो की प्रश्ांसा की इसी बीच विशिष्ट अतिथि के रुप में आयी श्रीमती सरोज दुबे उपाध्यक्ष महिला मोर्चा ने अपने सम्बोधन में कहा कि भूर्ण हत्या महापाप है। अर्थात् बेटे और बेटियों का समान स्थान होना चाहिये। वही विशिष्ट अतिथि भ्राता गुड्डू मिस्त्री प्रधान ने कहा कि मजहब नही सिखाता आपस में बैर रखना हिन्दी है हम वतन के हिन्देस्ताना हमारा अर्थात् सबसे समानता होनी चाहिये नारी का स्थान सर्वोच्च है। नारी हर क्षेत्र में आगे है। वही उपजिलाधिकारी की धर्मपन्नी श्रीमती पारुल श्रीवास्तव ने एवं श्रीमती शशि श्रीवास ने भी महिला दिवस की शुभकामनायें दी। कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रही इंजी. भारती आर्य ने कहा कि ब्रहम्मा कुमारी बहनों का समाज में विशेष योगदान है। प्रत्य़क्ष प्रमाण है नारी सशक्तिकरण। कार्यक्रम की मुख्य वक्ता राजयोगिनी बी. के. कविता बहन जी ने अपने क्क्तव्व में कहा कि खुशी देना ही खुशी प्राप्त होती है। हमें छोटी- छोटी ख्ुशियों को संजोकर सदा खुश रहना चाहिये। राजयोगिनी बी. के. उमा बहन जी केन्द्र प्रभारी बरुआसागर ने कहा कि नारी जग में हीन नही वह किसी के अधीन नही जब नारी करेगी श्रेष्ठ आचरण तभी देश देश बोलेगा वन्देमातरम। बी. के. चित्रा बहन जी ने आभार व्यक्त करते हुये कहा कि ब्रहम्मा कुमारी संस्था की संचालिकायें बहिनें ही होती है। और इस संस्था की मुख्य प्रवासिका जो कि 104 वर्ष की हो चुकी है। दीदी जानकी जी आज भी देश विदेश की सेवा कर रही है। इसी बीच बी. के. कल्याणी बहन ने नारी शक्ति की महिमा की। मंच में संचालन बी. के. रचना बहन ने किया। इस कार्यक्रम में बी. के. रचना बहन केन्द्र प्रभारी कटेरा, बी. के. वरदानी बहन, बी. के. मीना बहन , बी. के. दीक्षा बहन , बी. के. नेहा बहन, कुं. मुनीक्षा बहन, बी. के. विधा बहन, बी. के. ऊषा माता जी, शिवदयाल भाई, कृपा, गौरी, राधा, परी, मेघा, मुस्कान ने साँस्कृतिक कार्यक्रमों का मंचन किया।