रुपयों की लालच में हुई थी ठेकेदार बलबीर की हत्या:रिपोर्ट-=आयुष साहू

0
70

झाँसी। बीते 17 अगस्त को कोतवाली थाना क्षेत्र में हुए मध्य प्रदेश के सरकारी ठेकेदार के हत्याकांड का आज पुलिस ने खुलासा करते हुए एक आरोपी को सलाखों में भेज दिया। पुलिस ने आरोपी के पास से लाखों रुपये की नकदी भी बरामद की है।
ज्ञात हो कि बीते 17 अगस्त को कोतवाली थाना क्षेत्र के पीतांबरा इन्क्लेव के फ्लैट नंबर 6 में नई बस्ती निवासी बलवीर प्रजापति का खून से सना हुआ शव बरामद हुआ था। जिससे आसपास के क्षेत्र में सनसनी फैल गई थी। मृतक के पुत्र कपिल प्रजापति ने अभय अग्रवाल, दिनेश परिहार तथा प्रियंका पर अपने पिता की हत्या का आरोप लगाते हुए पुलिस को तहरीर दी थी। परिजनों ने बलबीर के पास से 17 लाख रुपये का गायब होना भी बताया था। प्राप्त तहरीर के आधार पर शहर कोतवाल देवेंद्र कुमार के नेतृत्व में हरकत में आई पुलिस ने कई जगहों पर ताबड़तोड़ दबिश के बाद इस हत्याकांड से जुड़े कुछ महत्वपूर्ण सबूतों को प्राप्त किया। इसी दौरान 20 अगस्त को पुलिस ने आरोपी अभय अग्रवाल को ग्वालियर रोड़ क्रॉसिंग के पास से गिरफ्तार कर लिया। अभय से पुलिस ने गहराई से पूछताछ की तो उसने सारा सच उगल दिया। आरोपी अभय ने म्रतक बलबीर तथा प्रियंका के बीच संबंधों का होना बताया। संबंधो के कारण प्रियंका तथा उसके पति हंसराज के बीच विवाद होता रहता था। हंसराज को बताए बिना बलबीर ने पीताम्बरा इन्क्लेव स्थित अपने फ्लैट पर प्रियंका को रख लिया था जिससे हंसराज नाराज रहता था। 17 अगस्त को बलवीर अपने फ्लैट की रजिस्ट्री कराने पीताम्बरा इन्क्लेव पहुंचा। इसी दौरान अभय अग्रवाल, हंसराज तथा उसकी पत्नी प्रियंका ने योजना बनाकर बलवीर पर हथौड़ी से प्रहार कर दिया जिससे उसकी मौत हो गई और उसके पास मौजूद रुपया लेकर फरार हो गए। पुलिस ने आरोपी अभय की निशानदेही पर नयागांव निवासी पूजा कुशवाहा के घर से घटना के समय लूटे गए पैसों में से 2.50 लाख रुपये तथा एक मोबाइल फोन बरामद किया। पुलिस ने आरोपी अभय अग्रवाल पर सम्बंधित धाराओं में कार्यवाही की है तथा शेष आरोपियों की धरपकड़ तेज कर दी है।

 

रिपोर्ट-=आयुष साहू