अपने फोन में कोई भी ऐप डाउनलोड करने से पहले जान लें यह जरूरी बात

0
132

नई दिल्ली। अगर आप भी कोई ऐप पसंद आने पर बिना कुछ सोचे उसे डाउनलोड कर लेते हैं तो यह आपके लिए खतरनाक हो सकता है। दरअसल कई ऐसी ऐप्स हैं जिनके माध्यम से मालवेयर अटैक का खतरा बढ़ जाता है। अगर ऐसा हो जाए तो आपकी सारी पर्सनल डिटेल्स हैकर्स के हाथों में पहुंचने में देर नहीं लगेगी।

क्या कहती है रिपोर्ट:

NowSecure, जो कि एक साइबर सिक्योरिटी कंपनी है, ने गूगल प्ले स्टोर पर उपलब्ध चार लाख से अधिक ऐप्स पर की गई स्टडी में सामने आया है कि नेटवर्क पर सभी ऐप्स 10.8 फीसद सेंसिटिव डाटा लीक करती हैं। 24.7 फीसद मोबाइल ऐप्स में कम से कम एक हाई-रिस्क सिक्योरिटी फ्लॉ होता है। साथ ही, 50 फीसद लोकप्रिय ऐप्स डाटा को एड-नेटवर्क पर उपलब्ध कराती है, जिसमें फोन नंबर, IEMI नंबर, कॉल लॉग्स और लोकेशन की जानकारी शामिल होती हैं।

आपके स्मार्टफोन के लिए ऑनलाइन मौजूद फ्री ऐप्स ज्यादा खतरनाक होते हैं। कैसपर्सकी सिक्योरिटी बुलेटिन के अनुसार, 2016 में एंड्रॉयड डिवाइस पर मालवेयर अटैक्स में अचानक तेजी आई थी। 2015 में फाइनेंशियल मालवेयर की ओर से 8 फीसद एंड्रॉयड डिवाइस को टार्गेट किया गया था जबकि 2016 में इसने 36 फीसद एंड्रॉयड डिवाइस पर अटैक किए।

इन ऐप्स से है आपके स्मार्टफोन को खतरा:

एक साइबर सिक्योरिटी कंपनी Trend Micro के अनुसार ये 6 तरह के ऐप्स आपके स्मार्टफोन को खतरा पहुंचा सकती हैं।

Data stealer

इस तरह के ऐप्स आपके मोबाइल में रखे जानकारियों को चुराती है। साथ ही, जानकारियों को रिमोट यूजर तक पहुंचाती है।

Premium service abuser

ये यूजर की जानकारी के बिना फोन में प्रीमियम सर्विस को सब्सक्राइब कर दिया जाता है।

Click fraudster

यूजर की जानकारी के उनके मोबाइल डिवाइस का उपयोग ऑनलाइन विज्ञापन पर क्लिक करके किया जाता है।

Malicious downloader

दूसरे असुरक्षित फाइल्स और ऐप्स को डाउनलोड कर आपके फोन के डाटा को चुरा लिया जाता है।

Spying tools

स्पाईंग टूल्स की मदद से हैकर्स यूजर के मोबाइल लोकेशन की जानकारी को हैक कर लेता है।

फोन को कैसे रखें सुरक्षित:

1. यूजर अपने स्मार्टफोन को सुरक्षित रखने के लिए फोन को पासवर्ड या पिन से लॉक करके रखें। फोन की सेटिंग में जाकर सिक्योरिटी फीचर को ज्यादा कनफिगर करें और लोकेशन को बंद कर दें।

2. किसी भी ऐप को स्मार्टफोन में डाउनलोड करने से पहले चेक कर लें। कोशिश करें कि किसी भी ऐप को उसके आधिकारिक एप स्टोर जैसे कि एंड्रॉयड मार्किट से ही डाउनलोड करें।

3. किसी भी साइट पर एक्सेस करने से पहले दोबार सोच लें।

4. अपने स्मार्टफोन में किसी मोबाइल सिक्योरिटी ऐप को इंस्टॉल करें जो आपके फोन को वायरस से सुरक्षित रखेगा।